Home मध्यप्रदेश Khandwa: नावों में इंजन लगाकर हो रहा था रेत का अवैध खनन, प्रशासनिक अमले ने जेसीबी से ध्वस्त की नाव

Khandwa: नावों में इंजन लगाकर हो रहा था रेत का अवैध खनन, प्रशासनिक अमले ने जेसीबी से ध्वस्त की नाव

0
Khandwa: नावों में इंजन लगाकर हो रहा था रेत का अवैध खनन, प्रशासनिक अमले ने जेसीबी से ध्वस्त की नाव
The administration demolished boats engaged in sand mining from Narmada river.

नर्मदा किनारे कार्रवाई करती पुलिस टीम।
– फोटो : Amar Ujala Digital

विस्तार


मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में नर्मदा नदी के किनारों से अवैध रूप से रेत निकालने वाले खनन माफिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए उनकी मशीनरी को जब्त किया गया है। प्रशासनिक अमले के साथ ही पुलिस बल और खनिज विभाग ने मिलकर संयुक्त रूप से गुरुवार को इस कार्रवाई को अंजाम दिया। इस दौरन करीब 6 नावों को जेसीबी की मदद से नष्ट भी किया गया। जिनमें से दो नावों में बाकायदा इंजन लगाकर रेत के उत्खनन का काम किया जा रहा था। 

हालांकि मौके पर पहुंचे अधिकारियों को किसी खनन माफिया को पकड़ने में सफलता तो नहीं मिली, लेकिन उनकी मशीनरी को जब्त कर नष्ट करना भी अधिकारियों के लिए बड़ी सफलता की बात है।

खंडवा के बिलोरा बुजुर्ग गांव में ओंकारेश्वर थाना पुलिस, पुनासा एसडीएम तथा खनिज विभाग की टीम ने गुरुवार को रेत के अवैध उत्खनन के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। पुनासा एसडीएम बजरंग बहादुर के निर्देशन में ओंकारेश्वर थाना प्रभारी बलजीत सिंह ने यहां नर्मदा नदी में अवैध रूप से रेत निकाल रहे रेत माफिया के खिलाफ यह कार्यवाही की है। पुलिस ने ग्राम बिल्लौरा बुजुर्ग के नर्मदा तट से चार नाव तथा रेत निकालने में उपयोग किए जाने वाले करीब दो इंजन को जब्त किया है, साथ ही पुलिस ने नाव को नष्ट कर दिया है। आरोपियों को लेकर पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है, हालांकि फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। 

बता दें कि ओंकारेश्वर में लंबे समय से नर्मदा नदी में रेत के अवैध उत्खनन की शिकायत जिला प्रशासन को मिल रही थी। रेत माफिया के हौंसले इतने बुलंद थे कि उन्होंने नाव में बाकायदा इंजन लगाकर रेत उत्खनन करना शुरू कर दिया था। 

नांवों को जप्त कर JCB से किया डिसमेंटल

मौके पर पहुंचे मांधाता थाना प्रभारी बलजीत सिंह बिसेन ने बताया कि स्थानीय प्रशासनिक अमले के साथ सूचना मिलने पर ओंकारेश्वर थाने का पुलिस बल भी मौके पर पहुंचा था, जहाँ उत्खनन में उपयोग किए जाने वाले उपकरणों को जप्त कर मामले की जांच शुरू कर दी है, तो वहीं नाव के 04 इंजन तथा 01 नाव जिसमें बड़े वाहन का इंजन लगा होना पाया गया, जिससे नदी के अंदर से रेत निकाली जाती थी, उन सभी को जब्त करके नाव को JCB की मदद से डिस्मेंटल किया गया है। हालांकि मौके पर फिलहाल रेत भरने का काम बंद था, जिसके चलते किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। 

गांव के दो किलोमीटर नदी क्षेत्र में हुई कार्रवाई

वहीं, इस पूरे मामले को लेकर मांधाता क्षेत्र के प्रशासनिक अधिकारी और पुनासा एसडीएम बजरंग सिंह बहादुर ने बताया कि बिलोरा घाट में जो अवैध रूप से रेत निकालते हैं, उनके खिलाफ आज कार्रवाई करते हुए बिलोरा गांव के लगभग डेढ़ से दो किलोमीटर की रेंज में नदी के किनारे जो भी नाव रेत के अवैद्ध उत्खनन के कार्य में लगी थी, उन्हें पकड़कर उनके खिलाफ कार्रवाई की है, जिसमें यहां के प्रशासनिक अमले के साथ ही पुलिस बल और खनिज विभाग भी साथ में था। इस कार्रवाई में चार नाव जिनमें रेत ढोने का काम किया जाता था, उनके साथ ही दो नांव जिनमें रेत उत्खनन की मशीन रखी थीं उन्हें पकड़ा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here