Tuesday, March 5, 2024
Homeउत्तर प्रदेशनोएडा-ग्रेटर नोएडानोएडा अथॉरिटी पर धरना : किसानों ने दूसरे दिन भी बंद...

नोएडा अथॉरिटी पर धरना : किसानों ने दूसरे दिन भी बंद किया गेट, पुलिस से हुई नोकझोंक

Tricity Today | किसानों ने दूसरे दिन भी बंद किया गेट




Noida News : आप किसी काम से प्राधिकरण कार्यालय जा रहे हैं तो ये खबर आपके लिए जरूरी है। क्योंकि किसानों ने आपनी मांगें पूरी नहीं होने पर अफसरों का भी रास्ता रोक दिया है। नोएडा प्राधिकरण पर किसानों का धरना थमने का नाम नहीं ले रहा है। किसान हर दिन अलग-अलग तरीके से आंदोलन कर विरोध दर्ज करा रहे हैं। बुधवार को दूसरे दिन भी किसान नोएडा प्राधिकरण के सभी गेट पर बैठ गए हैं। इस बीच, पुलिस और किसानों के बीच नोकझोंक हुई। किसानों ने किसी भी कर्मचारी और अधिकारी को दफ्तर के भीतर नहीं जाने दिया। कार्यालय में आवाजाही पूरी तरह से बंद हो गई है। इससे प्राधिकरण का कामकाज प्रभावित हो रहे हैं। शहर के लोगों को भी परेशानी हो रही है। लोग अपना काम कराए बिना ही लौट रहे हैं।

 


50 दिनों से चल रहा धरना

किसान आंदोलन का नेतृत्व कर रहे भारतीय किसान परिषद के नेता सुखवीर खलीफा ने कहा कि किसानों का धरना करीब 50 दिनों से चल रहा है। एक फरवरी को नोएडा अथॉरिटी पर महापंचायत बुलाई गई है। उसमें आगे की रणनीति तय की जाएगी। उन्होंने बताया कि बुधवार सुबह आठ बजे से ही प्राधिकरण का घेराव किया जा रहा है। अथॉरिटी पर सभी किसान बैठ गए हैं। जब तक किसानों का काम नहीं होगा, तब तक किसी भी अधिकारी को अंदर घुसने नहीं दिया जाएगा। यह सिलसिला आगे भी जारी रहेगा। आपको बता दें कि किसानों ने मांगें पूरी नहीं किए जाने के विरोध में सोमवार को सेक्टर 15ए स्थित सांसद महेश शर्मा के आवास का घिराव किया गया था। बड़ी संख्या में किसान यहां सड़क पर ही बैठ गए, जिससे दिल्ली से नोएडा की ओर आने वाला ट्रैफिक प्रभावित रहा। 

किसानों को जीत दिलवा कर ही दम लेंगे : सुखबीर खलीफा

धरना स्थल पर सुबह हवन करने के बाद भारतीय किसान परिषद के अध्यक्ष सुखबीर खलीफा ने कहा कि इस बार किसानों को जीत दिलवा कर ही दम लेंगे। अधिकारियों ने आश्वासन दिया था कि उनकी समस्याओं का समाधान हो जाएगा। लेकिन, अब तक किसी भी समस्या का समाधान नहीं किया गया है। अथॉरिटी और शासन उन्हें मूर्ख बना रहे हैं। किसानों की मांग पूरी नहीं होगी तो प्राधिकरण के अधिकारियों का यहां क्या काम? ऐसे में प्राधिकरण को बंद रहना ही ठीक है।

क्या है पूरा मामला

किसान नेता सुखबीर खलीफा ने बताया कि किसान बढ़ा हुआ मुआवजा, स्थानीय लोगों को रोजगार, 10 प्रतिशत प्लॉट और आबादी की समस्या के पूर्ण निपटारे की मांग कर रहे हैं। दोनों जगहों पर अब तक कोई भी स्थानीय नेता किसानों की समस्याएं सुनने नहीं पहुंचा है। किसान नेताओं के साथ ही जिला प्रशासन के अधिकारियों से भी नाराज हैं। वे भी उनकी मांगों को ऊपर तक नहीं पहुंचा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने एनटीपीसी और नोएडा प्राधिकरण को काफी समय दे दिया है। लेकिन, अब तक हमारी मांगों को लेकर सिर्फ कागजी खानापूर्ति ही की जा रही है। इसलिए अब आंदोलन को और तेज किया जाएगा। इस आंदोलन में भारी संख्या में महिलाएं भी हिस्सा ले रहीं हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments