Sunday, March 3, 2024
Homeउत्तर प्रदेशनोएडा-ग्रेटर नोएडाNoida News : ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली बड़ी समस्या, किसान एकता संघ...

Noida News : ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली बड़ी समस्या, किसान एकता संघ ने रिश्वत समेत उठाए कई मामले

Tricity Today | ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली बड़ी समस्या




Noida News : ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली संबंधी समस्याएं विकट होती जा रही हैं। इस समस्या के समाधान के लिए किसान एकता संघ का प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रीय संरक्षक चौधरी बाली सिंह और महानगर अध्यक्ष कमल यादव के नेतृत्व में अधीक्षण अभियंता ललित मोहन से मिला। ग्रामीण क्षेत्रों से आई समस्याओं के बाबत मीडिया प्रभारी राजेंद्र चौहान ने जानकारी दी।

क्या है पूरा मामला

किसान नेताओं ने कहा कि मकानों को तोड़कर बनाए जाने पर अस्थाई कंट्रक्शन के लिए मीटर लगवाने के नाम पर ग्रामीणों का शोषण किया जाता है। उन्होंने इस पर तत्काल अंकुश लगाने की मांग की। उन्होंने कहा कि जिन मकानों में घरेलू कनेक्शन लगे हुए हैं तथा उसमें घरेलू दुकान है तो उस दशा में कमर्शियल कनेक्शन लगवाने के लिए ग्रामीणों को परेशान किया जाता है। इसे तत्काल बंद किया जाए। इसमें लोड शून्य होता है और गरीबों का गुजारा चलता है। इसलिए एक समान नीति से इनमें दो अलग-अलग प्रकार के मीटर न लगाए जाए। बिजलीघरों में जारी इमरजेंसी नंबरों को उठाने के लिए एडवाइजरी जारी की जाए। समय पर बिजलीघर में फोन नहीं उठाए जाते हैं। यह एक बड़ी समस्या है। कंप्लेंट को सही करने वाले कर्मचारी रिश्वत की मांग करते हैं। इसके लिए निगरानी की व्यवस्था की जाए। 

ये भी हैं विकट समस्याएं

उन्होंने कहा कि नए विद्युत कनेक्शन के लिए प्रॉपर्टी कोड, एफिडेविट आदि को डिजिटल वेबसाइट से हटाया जाए। क्योंकि नोएडा के गांवों में अभी प्रॉपर्टी कोड जारी नहीं किए गए हैं। डिजिटलीकरण के नाम पर लोगों को भ्रमित न किया जाए। ओवरलोड के नाम पर लोगों से अवैध उगाई बंद हो। डिजिटलीकरण के कारण तीन महीने लगातार एक लोड आने पर विभाग द्वारा ऑटोमेटिक ही लोड बढ़ा दिया जाता है। फिर फोन कर या कंज्यूमर के घर जाकर लोड के नाम पर वसूली की जाती है। विद्युत बिल निकालने वाली कंपनी द्वारा जो बिल निकाले जा रहे हैं, वह कुछ समय में ही कोरा कागज बन जाते हैं, इसलिए रिबन प्रिंटिंग प्रिंटर द्वारा ही बिल बनाए जाएं।

कुछ समस्या का हुआ समाधान

अधीक्षण अभियंता ने कुछ समस्याओं का तत्काल समाधान कर दिया। जबकि कुछ समस्याएं शासन स्तर की बताकर उसके प्रति सकारात्मक कार्रवाई का भरोसा दिया। किसान नेताओं ने शासन संबंधी समस्याओं के बाबत अधीक्षण अभियंता को ज्ञापन सौंपा।

इनकी रही उपस्थिति

प्रतिनिधिमंडल में मुख्य रूप से चौधरी बाली सिंह, कमल यादव, राजेंद्र चौहान, ललित अवाना, अर्जुन प्रजापति, अशोक शर्मा, अमित तोमर, विपिन चौहान, राम कुमार, लाला नेतराम, सतीश पाल, श्री भगवान, टीकम चौहान आदि शामिल रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments