Home उत्तर प्रदेश नोएडा-ग्रेटर नोएडा दिल्ली की चैंपियनशिप में नोएडा के स्कूल ने बाजी मारी : इस विद्यालय को मिला ‘नंबर वन स्कूल इन स्पोर्ट्स’ का खिताब

दिल्ली की चैंपियनशिप में नोएडा के स्कूल ने बाजी मारी : इस विद्यालय को मिला ‘नंबर वन स्कूल इन स्पोर्ट्स’ का खिताब

0
दिल्ली की चैंपियनशिप में नोएडा के स्कूल ने बाजी मारी : इस विद्यालय को मिला ‘नंबर वन स्कूल इन स्पोर्ट्स’ का खिताब


नोएडा/नई दिल्ली। दिल्ली में एसएफए चैम्पियनशिप्स के पहले संस्करण का समापन हो गया। शहर के स्कूलों ने अद्भुत प्रतिभा और खेल भावना का प्रदर्शन किया। नोएडा एजुकेशनल एकेडमी ने 7 गोल्ड, 4 सिल्वर और 4 ब्रॉन्ज़ मेडल्स हासिल कर 119 प्वाइंट्स का स्कोर किया। उसने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए ‘नंबर वन स्कूल इन स्पोर्ट्स’ का खिताब अपने नाम किया। चैम्पियनशिप्स में पैथवेज़ वर्ल्ड स्कूल, गुरुग्राम पहला रनर-अप रहा। वहीं, मानव भावना पब्लिक स्कूल, नथुपुरा ने दूसरे रनर-अप का खिताब अपने नाम किया। 

युवाओं की खेल क्षमता बढ़ाने में मददगार
मानव भावना पब्लिक स्कूल के डायरेक्टर दीपक गौर ने कहा कि हम दिल्ली में एसएफए चैम्पियनशिप्स के पहले संस्करण की शानदार सफलता का जश्न मना रहे हैं। हम सभी प्रतिभागियों और एथलीट्स के समर्पण और खेल भावना की सराहना करते हैं। ये उपलब्धियां हमारे शहर में मौजूद प्रतिभा तथा खेलों की क्षमता द्वारा युवाओं के जीवन को आयाम देने की प्रतिबद्धता को दर्शाती हैं। हम टीम एसएफए के प्रयासों की सराहना करते हैं, जिन्होंने हमारे युवाओं में खेलों एवं एथलेटिक क्षमता को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। 
दिल्ली के स्कूलों में एथलीट्स ने व्यक्तिगत स्तर पर भी शानदार प्रदर्शन किया। प्रतिष्ठित ‘गोल्डन गर्ल’ का खिताब स्प्रिंगडेल्स स्कूल, धौला कुआं की अनिका गुप्ता को मिला। उन्होंने कैरम और चेस में 2-2 गोल्ड मेडल जीते। वहीं, मानव भावना पब्लिक स्कूल, नथुपुरा के हर्ष कुमार ने एथलेटिक्स और खो-खो में 2-2 गोल्ड मेडल्स जीतकर ‘गोल्डन ब्वॉय’ का खिताब अपने नाम कर लिया।

6,200 एथलीट्स ने किया प्रतिभा का प्रदर्शन 
दीपक गौर ने कहा कि दिल्ली में एसएफए चैम्पियनशिप्स में प्रतिभागियों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया। 540 से अधिक स्कूलों से तकरीबन 6,200 एथलीट्स ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। विभिन्न खेलों, जैसे स्केटिंग, शूटिंग, फुटबॉल, एथलेटिक्स, बैडमिंटन, बास्केट बॉल और कबड्डी में रोमांचक मैच देखने को मिले। 64 फीसदी पुरुष एथलीट्स और 34 फीसदी महिला एथलीट्स के तालमेल के साथ चैम्पियनशिप्स ने समावेशन और विविधता का जश्न मनाया। प्रतिभागियों में स्वस्थ प्रतियोगिता देखने को मिली। उन्होंने कहा कि दिल्ली में एसएफए चैम्पियनशिप्स के पहले संस्करण की सफलता युवा एथलीट्स की प्रतिबद्धता एवं समर्पण को दर्शाती है। 
    
एसएफए चैम्पियनशिप्स, दिल्ली, 2023-24 में खेलों में टॉप स्कूल 
एसएफए चैम्पियनशिप्स, दिल्ली 2023-2024 में सबसे महत्वपूर्ण कोच चरणजीत, मानव भावना पब्लिक स्कूल, नथुपुरा
सबसे ज़्यादा खिलाड़ी : मानव भावना पब्लिक स्कूल, नथुपुरा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here