Sunday, July 21, 2024
Homeमध्यप्रदेशMP News: सीबीआई का बीएमएचआरसी में मारा छापा, उपकरण खरीदी और मेंटेनेंस...

MP News: सीबीआई का बीएमएचआरसी में मारा छापा, उपकरण खरीदी और मेंटेनेंस में हेराफेरी का मामला


सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने राजधानी के भोपाल मेमोरियल अस्पताल एण्ड रिसर्च सेंटर में उपहरण खरीदी को लेकर छापा मारा है। सीबीआई के 15 अधिकारी दोपहर करीब एक बजे के बाद भानपुर स्थित बीएमएचआरसी अस्पताल में पहुंचे और कर्मचारियों के बाहर निकलने पर रोक लगा दी। इसके बाद उपकरण खरीदी और मेंटेनेंस संबंधी दस्तावेजों को खंगालना शुरू कर दिया। सीबीआई अधिकारियों ने रात आठ बजे तक अस्पताल परिसर में स्थापना शाखा से लेकर मेंटेनेंस शाखा और नर्सिंग शाखा से जुड़े दस्तावेजों को खंगाला है। इसके बाद यह भी कहा जा रहा है कि प्रदेशभर में नर्सिंग फर्जीवाड़े को लेकर की जा रही सीबीआई की कार्रवाई से यह मामला जुड़ रहा है। हालांकि देर रात तक बीएमएचआरसी प्रबंधन ने सीबीआई की छापेमारी किस संबंध में यह स्पष्ट नहीं किया है। सीबीआई के अधिकारियों ने भी मीडिया को किसी भी संबंध में जानकारी नहीं दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीते वर्ष करोड़ों के उपकरण इंजीनियरिंग शाखा व अन्य शाखाओं द्वारा की गई थी। इन उपकरणों के मेंटेनेंस को लेकर भी करोड़ों के हेरफेर के आरोप लगाए गए थे। इसको लेकर सीबीआई मुख्यालय नई दिल्ली तक शिकायत दस्तावेजों के साथ की गई थी। यह छापेमारी उपकरण खरीदी और मेंटेनेंस को लेकर ही हुई है।

उप संचालक की पार्टी स्थगित, खड़े रहे कर्मचारी

सीबीआई ने इंजीनियरिंग शाखा के उप संचालक एसआर गणवीर के सेवानिवृत्ति पर आयोजित विदाई पार्टी के आयोजन में बाहर से आने वाले अतिथियों को अनुमति नहीं दी, जिसके बाद दो बजे शुरू होने वाली पार्टी ही स्थगित कर दी गई। सीबीआई ने किसी भी कर्मचारी को बिना उनके अनुमति के अस्पताल परिसर छोडऩे पर रोक लगा दी थी, जिसके कारण रात आठ बजे सीबीआई की अनुमति के बाद ही करीब एक सैकड़ा कर्मचारी अपने-अपने घर जा रहे। सभी कर्मचारी अस्पताल परिसर में ही बाहर खड़े रहे।

नर्सिंग घोटाले से जोड़े जा रहे तार

इधर बीएमएचआरसी अस्पताल प्रबंधन ने सीबीआई के छापेमारी को लेकर अपनी सफाई दी है। अस्पताल की अधीक्षिका और प्रभारी डायरेक्टर डॉ. मनीषा श्रीवास्तव ने बताया कि छापेमारी नहीं थी। किसी सर्चिंग को लेकर सीबीआई को कुछ दस्तावेज चाहिए थे, वह दस्तावेज सीबीआई अधिकारी खंगाल रहे थे। वहीं अस्पताल सूत्रों ने बताया कि प्रदेशभर में नर्सिंग कॉलेजों की मान्यता और फैकेल्टी को लेकर हुए फर्जीवाड़े की जांच सीबीआई को सौंपी गई है। फर्जीवाड़े में शामिल कई कॉलेजों के नर्सिंग छात्र बीएमएचआरसी में इंटर्न करते हैं, जिसको लेकर सीबीआई ने छापा मारा है। देर रात तक सीबीआई के अधिकारियों ने इस छापेमारी के संबंध में कोई जानकारी नहीं दी है।  सीबीआई बड़ी संख्या में दस्तावेजों को जब्त कर ले गई है। ऐसे में माना जा रहा है कि दस्तावेजों के खंगालने के बाद ही सीबीआई जानकारी देने की स्थिति में है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments