Sunday, July 21, 2024
Homeमध्यप्रदेशSingrauli Crime: तंत्र-मंत्र की काट करने के बहाने समधी ने बुलाया, फिर...

Singrauli Crime: तंत्र-मंत्र की काट करने के बहाने समधी ने बुलाया, फिर धड़ से अलग कर दिया सिर


सिंगरौली में झाड़-फूंक के नाम पर सिर धड़ से अलग कर दिया।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


सिंगरौली जिले के चितरंगी थाना क्षेत्र के सूदा गांव में दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। सुनसान इलाके में लाश मिली, जिसका सिर और धड़ अलग-अलग पड़ा था। शुरू में मानव बलि का मामला लग रहा था। बाद में खुलासा हुआ कि जमीन विवाद को लेकर ओझा ने यह हत्या की है। मृतक को शक था कि उसका स्वास्थ्य खराब रहता है तो इसकी वजह तंत्र-मंत्र है। उसका उतारा करने ही उसने ओझा को बुलवाया और सुनसान इलाके में जाकर तंत्र विद्या कर रहे थे। इस दौरान आरोपी ने धारदार हथियार से हमला कर सिर को धड़ से अलग कर दिया। पुलिस ने यूपी से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

  

ग्राम सूदा के पनिका परिवार के दो पक्षों में जमीन विवाद चल रहा था। इसमें सड़क किनारे झाड़ियों के पास रामचंद्र पनिका पिता हरखलाल पनिका का धड़ से अलग सिर पड़ा था। घटना की चर्चा पूरे क्षेत्र में आग की तरह फैल गई। मामले की जानकारी पर चितरंगी पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। शव को अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू की तो पता चला कि मृतक का अपने परिवार के ही हरिनारायण पनिका से जमीनी विवाद था। उनके अक्सर झगड़े होते थे। इसी को लेकर आरोपी ने शराब पिलाने के बहाने रामचंद्र को बुलाया। फिर धारदार हथियार से उसका सिर धड़ से अलग कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

मानव बलि का दिया था चेहरा

सिंगरौली के एसपी यूसुफ कुरैशी ने बताया कि यह झाड़-फूंक की आड़ में हत्या का मामला है। अधेड़ की बलि देने की बात सामने आई थी। जिसकी पड़ताल की गई। पहली नजर में लग रहा है कि झाड़ फूंक की आड़ में हत्या की गई हैं। पहले से दोनों पक्षों का जमीनी विवाद भी चल रहा था। सिर काटने वाले गुनिया-ओझा को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

ओझा रिश्ते में मृतक का समधी 

पुलिस के मुताबिक ओझा हरिनारायण पनिका निवासी गर्दी सोनभद्र-यूपी का रामचंद्र पनिका से रिश्ता समधी का था। रामचंद्र बहुत दिनों से अस्वस्थ था। उसे शख था कि किसी ने तंत्र-मंत्र कर दिया है। इसी वजह से उसने ओझा को गर्दी गांव से बुलवाया था। हरिनारायण पनिका और रामचंद्र के बीच जमीन का विवाद भी था। इसके बाद भी हरिनारायण के कहने पर रामचंद्र सुनसान इलाके में चला गया। वहां उसे शराब पिलाई गई। फिर ओझा ने धारदार हथियार से पहले गर्दन पर प्रहार किया। इसके बाद मंत्र पढ़ते हुए दूसरी बार बलुआ से प्रहार कर सिर को धड़ से अलग कर दिया। रामचंद्र की मौके पर ही मौत हो गई। घटना रविवार सुबह 10 बजे के आसपास की है, जबकि पुलिस को सूचना दोपहर 12 बजे के आसपास मिली। पुलिस ने हरिनारायण पनिका को गर्दी गांव से पकड़ा है।  

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments