Home उत्तर प्रदेश नोएडा-ग्रेटर नोएडा नोएडा में किसान नहीं करेंगे महापंचायत : पांच प्रतिशत विकसित भूमि का मसला 25 दिन में सुलझेगा, ढाई घंटे में मिला आश्वासन 

नोएडा में किसान नहीं करेंगे महापंचायत : पांच प्रतिशत विकसित भूमि का मसला 25 दिन में सुलझेगा, ढाई घंटे में मिला आश्वासन 

0
नोएडा में किसान नहीं करेंगे महापंचायत : पांच प्रतिशत विकसित भूमि का मसला 25 दिन में सुलझेगा, ढाई घंटे में मिला आश्वासन 

पांच प्रतिशत विकसित भूमि का मसला 25 दिन में सुलझेगा, ढाई घंटे में मिला आश्वासन 

Google Image | Symbolic Image




Noida News : भारतीय किसान यूनियन (बलराज) ने सेक्टर-142 स्थित शाहदरा गांव में 12 जुलाई को होने वाली किसान महापंचायत स्थगित कर दी है। यूनियन के नेतृत्व में 146 दिनों से किसानों का धरना चल रहा है। यूनियन के किसानों ने अपनी विभिन्न मांगों को नोएडा प्राधिकरण कार्यालय पर बैठक की। जिसमें पांच प्रतिशत विकसित भूमि का मसला 25 दिन में सुलझाने का लिखित आश्वासन मिलने के बाद महापंचायत स्थगित कर दी

ओएसडी से ढाई घंटे चली वार्ता 

सेक्टर-6 स्थित नोएडा प्राधिकरण कार्यालय में भू अभिलेख विभाग के ओएसडी महेंद्र प्रसाद ने किसान यूनियन पदाधिकारियों को वार्ता के लिए बुलाया था। करीब ढाई घंटे चली वार्ता के बाद समाधान निकल गया। यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष बलराज भाटी ने बताया कि 12 जुलाई को धरना स्थल पर फिर से महापंचायत की घोषणा की गई है, जिसमें किसान संगठनों को भाग लेना था। आनन-फानन में किसानों को वार्ता के लिए प्राधिकरण बुलाया गया। पदाधिकारियों के बीच वार्ता हुई, प्राधिकरण ने समय मांगा। 

25 दिन में सुलझाने का लिखित आश्वासन मिला 

बलराज भाटी ने बताया कि बताया कि प्राधिकरण से पांच प्रतिशत विकसित भूमि का मसला 25 दिन में सुलझाने का लिखित आश्वासन मिला है। अगर इसके बाद भी वादा पूरा नहीं होता है तो आंदोलन जारी रहेगा। इस दौरान भूलेख विभाग के ओएसडी क्रांति शेखर सिंह, अरविंद कुमार, तहसीलदार विनय कुमार, राष्ट्रीय अध्यक्ष महिला मोर्चा रेखा सिवाल, प्रदेश अध्यक्ष हातम सिंह भाटी, प्रदेश अध्यक्ष युवा विपिन खारी, प्रदेश उपाध्यक्ष उधम नंबरदार, पश्चिमी उत्तर प्रदेश अध्यक्ष संदीप भाटी, नवीन भाटी समेत अन्य किसान मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here