Saturday, April 13, 2024
Homeउत्तर प्रदेशनोएडा-ग्रेटर नोएडानोएडा में छात्राएं बनी फरिश्ता : छात्रा की जबरन हो रही...

नोएडा में छात्राएं बनी फरिश्ता : छात्रा की जबरन हो रही शादी को रुकवाया, पुलिस के एक्शन से बैकफुट पर आए परिजन

Google Image | symbolic image




Noida News : नोएडा के सेक्टर-126 के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाली आठवीं की छात्राओं ने सूझबूझ और पुलिस की मदद से सहपाठी की शादी रुकवा दी। आरोप है कि परिजन छात्रा की जबरन शादी कराने जा रहे थे। इसके लिए कई रस्में भी पूरी हो गई थीं। लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने शादी को रुकवा दिया। पुलिस ने परिजनों को समझाया बुझाया, जिसके बाद परिजनों ने छात्रा की शादी करने का फैसला वापस ले लिया। अब छात्रा फिर स्कूल जा रही है और खुश है। 

ये है पूरा मामला 

जानकारी के मुताबिक साथी छात्राओं ने बताया कि कुछ दिन पहले अचानक छात्रा सहमी हुई रहने लगी। कई दिनों से परेशान देखकर सहपाठियों ने उदासी का कारण पूछा। बहुत पूछने पर उसने जबरन शादी किए जाने की बात बताई। इसका पता चलते ही उसकी सभी सहपाठियों ने क्लास टीचर और स्कूल प्रबंधन को इसी जानकारी दी। स्कूल प्रबंधन ने चाइल्ड हेल्पलाइन और संबंधित थाने में इसकी शिकायत की। जानकारी लगते ही पुलिस सक्रिय हुई और कार्रवाई शुरू कर दी। शादी वाले दिन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शादी रुकवा दी और आरोपियों को भी हिरासत में ले लिया। जिसके बाद परिजन शादी रोकने के लिए राजी हो गए।

बहन के लापता होने पर हो रही थी छात्रा की शादी 

पुलिस जांच में पता चला है कि छात्रा की बड़ी बहन की शादी होनी थी। शादी से कुछ दिन पहले बड़ी बहन संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई। समाज में बदमानी की डर से उन्होंने बड़ी की जगह छोटी बहन को शादी करने को कहा। कलम पकड़ने वाले उसके हाथों में जबरन मेहंदी भी लगाई गई। उसे शादी के लिए बकायदा तैयार किया गया था। शादी के रोके जाने से अब छात्रा बहुत खुश है। वह अपनी साथी सहपाठियों और शिक्षिका को धन्यवाद दे रही है। 

शिक्षिका बनना चाहती है छात्रा 

पीड़ित छात्रा का कहना है कि वह शिक्षिका बनना चाहती है। वह सिर्फ अपने परिजनों की खुशी के लिए शादी कर रही थी। लेकिन उसे उसकी साथी छात्राओं ने बचा लिया। अब उसके परिजन भी समझ रहे हैं कि उसकी भी कुछ जिंदगी है। वह अपनी दीदी के किए की भरपाई क्यों करें। उसने कहा कि वह अब पढ़ लिखकर शिक्षिका बनेगी और फिर खुद के जैसे लड़कियों को शिक्षित करेगी। 

शिक्षिकाओं ने कहा ऐसी घटनाओं का हो विरोध

स्कूल की शिक्षिका मीनाक्षी सिरोही बताती हैं कि बच्चों ने उन्हें रोते हुए पूरे मामले की जानकारी दी थी। यह बेहद अफसोस की बात है कि आज के समय में भी इस तरह की कुरीतियां पनप रही हैं। इसी स्कूल की अन्य शिक्षिका सीमा ने कहा कि ऐसी घटनाओं का पुरजोर विरोध करने की जरूरत है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments