Saturday, April 13, 2024
Homeछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ समाचार: मरीज की अचानक हुई मौत, घरवालों ने तोड़ दिया अस्पताल

छत्तीसगढ़ समाचार: मरीज की अचानक हुई मौत, घरवालों ने तोड़ दिया अस्पताल

कोरबा. कोरबा के कोसाबाड़ी स्थित न्यू कोरबा अस्पताल में उस वक्त हंगामा होगा गया जब एक मरीज की उपचार के दौरान मौत हो गई. 55 वर्षीय मृतक सत्यनारायण पटेल दादर खुर्द का रहने वाला था. कुछ दिनों पहले उसकी तबीयत बिगड़ने पर उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. यहां उसका उपचार चल रहा था. 26 मार्च की सुबह आईसीयू में 6  से 7  बजे के बीच में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. परिजनों को जब सत्यनारायण की मौत की सूचना मिली तो उसके बाद उन्होंने हंगामा करना शुरू कर दिया.

मृतक के परिजनों की मानें तो सत्यनारायण पटेल सुबह 6 बजे तक परिजनों से बातचीत कर रहा था. उसके बाद अचानक उसकी मौत हो गई. मौत की जानकारी लगते ही परिजन आक्रोशित हो गए. परिजनों ने आरोप लगाया है कि डॉक्टर के लापरवाही के चलते उसकी मौत हुई है. परिजनों ने बताया अस्पताल में नर्स और गार्ड ने उनसे अभद्रता और विवाद किया. वहीं, परिजन मारपीट करने को भी उतारू हो गए. दावा किया जा रहा है कि न्यू कोरबा हॉस्पिटल में स्टाफ के गलत व्यवहार और इलाज में लापरवाही की शिकायत अक्सर मिलती है. यहां कभी मरीजों के डिस्चार्ज में देर, तो भी कभी डॉक्टर की अनुपस्थिति की शिकायतें आती हैं. परिजन इलाज में कमी की शिकायत भी दर्ज कराते हैं.

अस्पताल ने दी ये सफाई
इस घटना को लेकर एनकेएच अस्पताल के डॉ. सुदीपकर शाह ने बताया मृतक को कई प्रकार के रोग थे. उसका इलाज चल रहा था. आज उसके सीने से पानी निकाला जाना था. उसी की तैयारी चल रही थी. इस बीच उसे सांस लेने में अचानक परेशानी होने लगी. थोड़ी देर बाद उसकी मौत हो गई. उन्होंने बताया कि मृतक के परिजनों ने उनके साथ मारपीट नहीं की, लेकिन गार्ड और नर्स के साथ हाथापाई जरूर हुई है.

पुलिस ने कही ये बात
सिविल लाइन रामपुर थाना प्रभारी सुमन पोया ने बताया कि सत्यनारायण पटेल नामक व्यक्ति को भर्ती कराया गया था. उसे बीपी लो की शिकायत थी. मौत होने के बाद परिजनों के द्वारा हंगामा मचाने की सूचना मिली थी. यहां मौके पर पहुंचकर हमने परिजनों को समझाइए दी. फिलहाल शव का पंचनामा कर पोस्टमॉर्टम के लिए रवाना कर दिया गया है. मामले में आगे की जांच की जा रही है. बता दें, एनकेएच अस्तपाल में हंगामा पहली बार नहीं हुआ है. इससे पहले भी अस्तपाल प्रबंधन पर इलाज में लापरवाही और अधिक बिल बनाने का आरोप लग चुका है.

Tags: Chhattisgarh news, Korba news

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments